एक दुल्हन ऐसी भी – 2

Featured

जैसे ही मैं घर के अंदर गया मैंने देखा कि दृष्टि के माता पिता वहाँ बेठे हुए थे। उनके पास कुछ रिश्तेदार भी थे। मैंने उनसे पूछा कि क्या हुआ तो दृष्टि के पिता बोले कि "आज मेरी बेटी की शादी थी और" बस इतना कहकर वो आगे कुछ नहीं बोले। दृष्टि को मैं बचपन … Continue reading एक दुल्हन ऐसी भी – 2

Advertisements
Featured

एक दुल्हन ऐसी भी

मुख्य चरित्र -दृष्टि -कृष्णा -दीपक लेखक -दीपक चहल   ये कहानी है दृष्टि और कृष्णा की। दोनों एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे। दोनों ने अपने घर वालों को मनाया और दोनों शादी करने के लियें तैयार हो गए। शायद क़िस्मत को यह मंज़ूर ना था। उन दोनों की शादी से पहले कुछ ऐसा … Continue reading एक दुल्हन ऐसी भी

Featured

Real Cost Of A Pair Of Shoes(Story)-2

मैंने देखा कि वो बच्चा बहुत उदास था। मैं उसके पास गया और पूछा कि क्या बात है उदास क्यूँ हो? तो उसने बताया कि "आज मुझसे गाड़ी साफ़ करते वक़्त उस पर एक छोटा सा निशान हो गया था जिसके कारण मेरे मालिक ने मुझे बहुत डाँट लगाई।" मैंने उससे पूछा तुम्हारा नाम क्या … Continue reading Real Cost Of A Pair Of Shoes(Story)-2

Featured

The Journey Of Meera

बात लगभग 100 वर्ष पुरानी है। पंजाब (वर्तमान में हरियाणा) का एक ख़ुशहाल गाँव था इन्द्रापुर। उसी ख़ुशहाल गाँव का एक बड़ा ही समृद्ध व्यक्ति था हरनाथ। उसका परिवार छोटा और ख़ुशहाल था,जिसमें हरनाथ उसकी पत्नी मूर्ति और उनकी इकलोटी बेटी थी मीरा। कड़े परिश्रम और तपस्या के बाद उनके घर में हरनाथ के विवाह … Continue reading The Journey Of Meera

Ek Tarfa

निगाहें तरसतीं हैं जिनके दीदार के लिए वक़्त ही नहीं है उनके पास हमारे प्यार के लिए -दीपक चहल 

Kaash Tum Na Hote

काश उस रोज़ मुझे वो दिखे ना होते तो आज हम उनकी याद में यूँ ना रोते ना उनसे मुहब्बत होती ना उनकी हमें चाहत होती ना ही हम राहों में खड़े होकर उनका इंतज़ार करते ना ही हम ख़ुद से ज़्यादा किसी और पर मरते ना उसकी इबादत होती मेरे दिल को कितनी राहत … Continue reading Kaash Tum Na Hote

Real Cost Of A Pair Of Shoes(Story)-(The Final Chapter)

मैंने देखा कि राहुल बहुत ख़ुश था। मैंने जब उससे उसकी इस ख़ुशी का कारण पूछा तो उसने अपना मुट्ठी बंद हाथ मेरे सामने खोल दिया। उसके हाथ में कुछ पुराने 10-20 रुपये के पुराने से नोट थे। उसने मुझसे कहा कि आज मुझे मेरी महीने भर की मेहनत का फल मिला है। वो बहुत … Continue reading Real Cost Of A Pair Of Shoes(Story)-(The Final Chapter)